राजस्थान की राजनीती में उथल – पथल अब आम बात हो गई है, कभी कांग्रेस तो कभी भाजपा में उथल – पुथल के कारण राजस्थान की सियासत गर्म रहती है | हाल ही में सामने आया है भाजपा से 2018 में अलग हुए घनश्याम तिवाड़ी फिर से भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं | घनश्याम तिवाड़ी की दिसंबर महीने में भाजपा में वापसी की चर्चाएं हैं, RSS के कुछ पदाधिकारियों के साथ तिवाड़ी की बातचीत हुई हैं ,हालांकि पहले भी ये खबर चर्चाओं में रही हैं, लेकिन अचानक से आई इन चर्चाओं से राजस्थान की सियासत गर्म हो गई है |
आप को बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से नाराज तिवाड़ी ने 2018 में भाजपा का हाथ छोड़ दिया था | तिवाड़ी ने अपनी खुद की पार्टी भारत वाहिनी बना ली थी लेकिन 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में तिवाड़ी को सफलता नहीं मिली, यहाँ तक कि घनश्याम तिवाड़ी की जमानत भी जप्त हो गई थी

Please follow and like us:
One thought on “पहले रूठने की ज़िद, अब घर लौटने की ज़िद”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)